ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
वैवाहिक आयोजन में दिए मेहमानों को पौधे
January 20, 2020 • SANJAY JOSHIY • राष्ट्रीय

सराहनीय पहल : पर्यावरण संरक्षण का दिया चौधरी परिवार की बिटिया दीक्षिता ने अनूठा संदेश


 
बेंगलूरु। ‘शादी की उमंग की रौनक है, परमात्मा की भी इनायत है। फूल-पौधों की खूशबू से महके है यह चमन सारा।।’ जी हां, कर्नाटक की राजधानी गार्डनसिटी-फूलों की नगरी के रुप में तो मशहूर है ही, यहां प्रवासित लोग भी पर्यावरणीय दृष्टि से विविध प्रकार के यूनिक कार्यक्रम करते रहते हैं। सोमवार को भी पर्यावरण को समर्पित एक वैवाहिक आयोजन में आगंतुक मेहमानों को सैकड़ों पौधों का वितरण किया गया। यूं तो भारी चकाचौंधको लेकर शादी-ब्याह जैसे समारोह सुर्खियों में रहते हैं, लेकिन चौधरी परिवार का यहां कुमारापार्क स्थित होटल ललित अशोक में यह इको फ्रेंडली कार्यक्रम पर्यावरण संरक्षण के मद्देनजर भी चर्चित हो गया। शहर की गौसेवा, जीवदया एवं पर्यावरणीय संरक्षण में अग्रणी श्रीमती शारदा जवाहर चौधरी की बिटिया दीक्षिता के वैवाहिक आयोजन से पूर्व हल्दी की रस्म थी, जिसमें बड़ी संख्या में विभिन्न क्षेत्रों के गणमान्यजनों ने शिरकत की जिन्हें वास्तुदोष निवारक एवं सुख-समृद्धि प्रदायक पौधों का वितरण किया गया। इनमें प्रदेश के पूर्व मंत्री एवं सांसद रामलिंगा रेड्डी व जयनगर क्षेत्र से विधायक सौम्या रेड्डी ने भी शामिल होकर इस पहल को अभिनव बताया। रिटर्न गिफ्ट में मिले पौधे हाथ में लेकर सभी मेहमानों के चेहरों पर सुकून और खुशी नजर आ रही थी। पूर्व मंत्री रेड्डी ने कहा कि प्रत्येक घर-परिवार में रस्मों रिवाज के पारंपरिक उल्लासमय आयोजनों में इस प्रकार की पहल को शामिल किया जाना चाहिए। नवदंपति सहित चौधरी परिवार को बधाई-शुभकामनाओं के साथ विधायक सौम्या रेड्डी ने भी कहा कि उन्हें बचपन से ही पेड़-पौधों एवं जीवों से प्रेम रहा है, लोगों को पेड़-पौधों को एक बेटे-बेटी के समान ही प्रेमपूर्वक पाला जाए तो पूरे देश को प्रदूषण मुक्त होते देर नहीं लगेगी। दुल्हन दीक्षिता ने बताया कि गत दिनों उन्होंने एक रिपोर्ट पढ़ी जिसमें ग्लोबल वार्मिंग के खतरे से आगाह किया गया, उसमें बताया गया था कि आने वाले 10-15 वर्षों में बढ़ते तापमान के कारण घर से निकलना दूभर हो जाएगा, इसी से प्रेरणा लकर ही उन्होंने अपने वैवाहिक आयोजन से पूर्व की रस्म में ही विशिष्ट पौधों के वितरण का संकल्प लिया। अपने दूल्हे अक्षय पुत्र नंदा-महावीर मेहता को भी उन्होंने सर्वप्रथम एक पौधा भेंट किया। कोमल-रोहित चौधरी व हितेश ठेकेदार ने सभी का स्वागत एवं आभार जताया।