ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
वायरल तो जबरदस्त हो रहा है, ऑनलाइन कंपनियों के बहिष्कार का मैसेज, मानेगा कौन ..?
April 17, 2020 • Just Rajasthan Team • राष्ट्रीय

न्यूजडेस्क। वैश्विक महामारी कोरोना व देशव्यापी लॉक डाउन के दौरान संकट के दौर से गुजर रहे देशवासियों से घर मे ही रहने की आगामी अपील 3 मई तक जारी है। हालांकि 20 अप्रैल से कुछ नियमावली में छूट होगी ऐसे में सोशियल मीडिया में कुछ मैसेज वायरल हो रहे हैं, इन्ही में से एक है ऑनलाइन कंपनियों का अब बहिष्कार किया जाए, वजह कुछ भी हो, मानेगा कौन.. खैर यहाँ देखिये हूबहू मैसेज ..👇


20अप्रैल से सभी ऑनलाइन कंपनियां शुरू हो रही है जैसे अमेज़न, स्नैपडील, फ्लिपकार्ट,. .. ,, आप सब ने भी देखा इस महामारी से समय इनमें से एक भी कंपनी ने एक रुपए भी भारत के लोगो के प्रति सहानुभूति रूप नहीं दिया है,।
  लोक डाउन में साथ देने वाले अपने घर मोहल्ले के आस पास के किराने वाले, दूध डेयरी वाले, मेडिकल स्टोर वाले इन सबका ही साथ मिला, और तो और जिन लोकल दुकानदारों ने अपनी दुकानें हमारे लिए बंद रखी और सारे खर्चे चालू होने के बावजूद उन्होंने सेवा कार्य में अपना तन मन धन जो बन सका लगाया , सबके मन में एक ही विचार चाहे कुछ भी हो जाए अपने देश को मुश्किलों से निकालना है ऐसा ही विचार रखा।
  अब जब ऑनलाइन कंपनियां चालू हो जाएंगी तब सभी लोग सस्ते के लालच में इन विदेशी कम्पनियों से अपना अपना सारा सामान खरीद लेंगे और जब लॉक डाउन खुलेगा तब कोई भी खरीदार बाजारों में नहीं दिखेगा , हम सब फाइनेंसियल मंदी के शिकार हो जाएंगे , यहां दुकान वाला अपना किराया मांगेगा, स्टाफ अपना पगार मांगेगा, बिजली बिल, होम लोन, गाड़ी के लोन और ना जाने कितने ऐसे ही खर्चे व्यापारियों के सिर पर होंगे , व्यापार ना होगा तो कहा से लाएंगे हम फिर से इतना पैसा.? 
इससे ज्यादा तो क्या बोलूं बस हाथ जोड़कर अपने माननीय प्रधानमंत्री जी से प्रार्थना करूंगा कि जब तक लॉक डाउन ना खुले तब तक किसी भी ऑन लाइन कंपनी को चालू करने की परमिशन ना दे ,, नहीं तो अपने देश के छोटे बड़े सभी व्यापारियों की हालत बहुत खराब हो जाएगी और अपने देश की अर्थव्यवस्था जल्द ना उबर पाएगी।।
   आप सभी से निवेदन - इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करे या अपने वॉल पे कॉपी पेस्ट करें और माननीय प्रधान मंत्री श्री मोदी जी तक अपनी आवाज पहुंच जाए आपके एक शुभ चिंतक की कलम से 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏