ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
ओंकारेश्वर मंदिर के महन्त पद पर श्रीविनीतगिरीजी को विधिवत गादी सौंपकर चादर ओढ़ाई
March 13, 2020 • SANJAY JOSHIY • धार्मिक

उज्जैन। विश्व विख्यात श्री महाकालेश्वर मन्दिर परिसर स्थित श्री ओंकारेश्वर महादेव मन्दिर में श्री पंचायती अखाड़ा महानिर्वाणी गुरू कपिल मुनि गादी परम्परा अनुसार श्रीविनीत गिरीजी को महन्त श्री प्रकाश पुरी के स्थान पर नियुक्त किया गया। महन्त श्रीविनीत गिरीजी को परम्परा अनुसार विधिवत सम्मानपूर्वक गादी सौंपकर चादर (शाल) ओढ़ाई गई। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि श्री महाकालेश्वर मन्दिर के सर्वांगीण विकास के साथ-साथ स्वच्छता पर पूर्ण सहयोग प्रदान किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सभी सन्तों के आशीर्वाद से सेवा का मौका मिला है, उन सब महन्तों को साधुवाद। उल्लेखनीय है कि
श्री महाकाल की गादी प्रथा परम्परा से चली आ रही है, उसी परम्परा का निर्वहन विधिवत रुप से सम्पन्न हुआ। श्री महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति की एक बैठक में श्री महानिर्वाणी अखाड़े द्वारा महाकाल मन्दिर परिसर स्थित श्री ओंकारेश्वर महादेव मन्दिर के लिये प्रस्तावित महन्त श्रीविनीत गिरीजी की नियुक्ति का अनुमोदन किया गया था। उसी कड़ी में आज शुक्रवार को प्रात: महन्त श्रीविनीत गिरीजी एवं अन्य महन्तों ने भगवान श्रीमहाकालेश्वर तथा श्री ओंकारेश्वर मन्दिर में दर्शन, पूजन-अर्चन कर महन्ताई गादी पर बैठाकर चादर (शाल) ओढ़ाई गई। उल्लेखनीय है कि हरियाणा प्रान्त के गुड़गांव से आये श्रीविनीत गिरीजी इससे पहले भगवताचार्य थे। गुड़गांव में दो से ढाई सौ निराश्रित गायों की गौसेवा का काम भी देखते थे। श्रीगिरीजी ने दर्शन एवं वेदान्त का सनातनी धर्म का अध्ययन भी किया है।
इस अवसर पर प्रशासक एसएस रावत, हरिद्वार के सचिव रवीन्द्र पुरी, दया पुरी, यमुना पुरी, प्रेम गिरी, महन्त श्रीश्यामनारायण गिरीजी, नरेन्द्र भारती, महन्त करण गिरीजी, प्रयागराज से सचिव महन्त रामसेवक गिरीजी, ओंकारेश्वर के सचिव महन्तश्री कैलाश भारतीजी, त्रयंबकेश्वर महाराष्ट्र के सचिव महन्तश्री रमेश गिरीजी, दिल्ली के महन्तश्री राधेश्याम पुरीजी, डॉ.रामेश्वरदास, श्रीमहाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति के सदस्य आशीष पुजारी,  प्रदीप गुरूजी, संजय शर्मा, अशोक शर्मा आदि महन्तों एवं श्रीमहाकालेश्वर मन्दिर के पुजारी-पुरोहितों ने नवागत गादीपति महन्तश्री विनीत गिरीजी का पुष्पहारों से स्वागत कर चादर ओढ़ाकर सम्मानित किया।