ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
मांसाहारी बनकर कोरोना वाइरस पैदाकर मानव जाति के लिए खतरा न बने : स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज
March 16, 2020 • SANJAY JOSHIY • राष्ट्रीय

जन्मदिन पर स्वास्थ्य मंत्री विज ने आचार्य लोकेश से मंगल पाठ सुनकर लिया आशीर्वाद

 2 अप्रैल को 300 बेड के पार्क ग्रुप के हीलिंग टच सुपर स्पैशलिटी हॉस्पिटल के उदघाटन का दिया निमंत्रण

   नई दिल्ली। हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ अनिल विज ने अपने जन्मदिवस पर प्रख्यात जैनाचार्य डॉ लोकेशजी से मंगल पाठ सुनकर आशीर्वाद लिया। अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक आचार्य डॉ. लोकेशजी ने इस अवसर पर कहा कि अनिल विज सादा जीवन और उच्च विचार के प्रतीक है विद्वता और विनम्रता की पराकाष्ठा उनमे मौजूद है उनकी सादगी और विनम्रता दिल को छूती है । जन्मदिवस पर अहिंसा विश्व भारती परिवार की ओर से शुभकामनाएँ देते हुए आचार्या लोकेश ने स्वास्थ्य मंत्री द्वारा कोरोना वाइरस की रोकथाम के संदर्भ में शाकाहार के समर्थन में की गई अपील की सराहना की। पार्क होस्पिटल्स ऑफ ग्रुप के चेयरमेन डॉ अजित गुप्ता ने स्वास्थ्य मंत्री को जन्मदिन की शुभकामनाएँ देते हुए अंबाला में 2 अप्रैल को 300 बेड के पार्क ग्रुप के हीलिंग टच सुपर स्पैशलिटी हॉस्पिटल के उदघाटन का निमंत्रण दिया जिसे स्वास्थ्य मंत्री ने सहर्ष स्वीकार करते हुए कहा कि यह बहुत ही खुशी का विषय है कि अंबाला शहर में ही विश्वस्तरीय चिकित्सा सुविधाएं सुलभ हो सकेंगी। उन्होने आशा व्यक्त की कि इस हॉस्पिटल से गरीबों व अभावग्रहस्तों को किफ़ायती दर से चिकित्सा सुविधा उपलब्ध हो सकेंगी। हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कोरोना वाइरस कि रोकथाम के लिए अपने बयान  को दोहराते हुए कहा कि “शाकाहारी बनो तरह–तरह के जीव जन्तु खाकर कोरोना जैसे वाइरस पैदाकर  मानव जाति के लिए खतरा पैदा न करो”। प्रखर चिंतक, लेखक व भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय सांप्रदायिक सद्भाव पुरस्कार से सम्मानित अंतराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त जैनाचार्य लोकेशजी ने स्वास्थ्य मंत्री के उक्त ब्यान का सराहना व समर्थन करते हुए उन्हें जैन धर्म का प्रतीक उत्तरीय व नमस्कार महामंत्र युक्त भगवान महावीर का प्रतीक चिन्ह भेंट किया। इस अवसर पर एयर मार्शल (रिटायर्ड) एवं पार्क हॉस्पिटल अंबाला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ राकेश रान्याल भी उपस्थित थे। उन्होने स्वास्थ्य मंत्री को पार्क होस्पिटल्स ऑफ ग्रुप का साहित्य भेंट किया।