ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
कोरोना ; घर से बाहर निकले तो खैर नहीं.., ओर तो ओर रात को सो भी नहीं पा रहे लोग..!
March 31, 2020 • SANJAY JOSHIY • राष्ट्रीय

 

 
न्यूज डेस्क। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के लिए राजस्थान के भीलवाड़ा जिला प्रशासन ने बड़ा फैसला लिया है। भीलवाड़ा जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने बताया कि भीलवाड़ा शहर में 3 अप्रेल से 13 अप्रेल की रात 12:00 बजे तक 11 दिन महाकर्फ्यू रहेगा। मतलब इस दौरान कोई भी व्यक्ति बाहर नहीं घूम सकेगा।
                                     
टाइम टेबल जारी किया जाएगा..
                                      
जिला कलेक्टर ने सभी से अपील की है कि इस अवधि में सभी घर में रहें। एक टाइम टेबल जारी किया जाएगा। जिसमें लिखा होगा की आपके इलाके में सब्जी और जरूरत के सामान की गाड़ी कब आएगी। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए सामान लें। घर से बिल्कुल बाहर नहीं निकलें।     
                              
शहर को सील करने की तैयारियां शुरू..  
                           
महाकर्फ्यू को लेकर जिला प्रशासन ने शहर को सील करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके तहत शहर की हर कॉलोनी को सील किया जाएगा। शहर में टैंट से सामग्री मंगवाकर हर बस्ती के बाहर बेरिकैडिंग लगाने की व्यवस्था की जा रही है, जिससे कोई घर से बाहर न निकल पाएं। अगर इस सबसे बावजूद कोई बाहर निकला तो पुलिस अपना काम करेगी।

महाकर्फ्यू के दौरान पूरी सख्ती रहेगी
                                   
अब तक लोग राशन खरीद के नाम पर आवाजाही कर रहे थे। अब कोई भी स्वयंसेवी संगठन व अन्य लोग राशन खरीद के नाम पर बाहर नहीं निकल सकेंगे। इस दौरान पूरी सख्ती रहेगी, ताकि संक्रमण ना फैले। इसके अलावा दोबार सर्वे होगा जिसमें कोरोना वायरस संदिग्धों की पहचान की जाएगी।
                      
रात को सो नहीं पा रहे लोग
                                      
भीलवाड़ा में 31 मार्च को 12वें दिन भी कर्फ्यू जारी है। शहर में एक साथ छह लोग कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद हालात नियंत्रित में काबू करने के लिए कर्फ्यू लगाया गया था। राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमितों के सबसे ज्यादा 26 मामले भीलवाड़ा  से सामने आए है।भीलवाड़ा कोरोना संक्रमण के लिहाज से देश का सबसे संवेदनशील जिला हो गया है। यहां जिन दो बुजुर्गों की मौत हुई है उस इलाके के लोग डरे हुए हैं। यहां तक रात में लोगों को नींद भी नहीं आ रही। राजस्थान में अब तक 76 मरीज कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। प्रदेश में 76 लोगों के अलावा ईरान से लाए गए लोगों में से 17 कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं । इस तरह प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 93  हो चुकी है।