ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
धीरेंद्र कुमार ‘धीर’ का स्वर्णिम सम्मान
January 18, 2020 • SANJAY JOSHIY • राष्ट्रीय

बेंगलूरु। दक्षिण भारत के बेंगलूरु शहर से प्रकाशित पहले हिंदी साप्ताहिक धीर के पचासवें वर्ष में प्रवेश पर संस्थापक धीरेंद्रकुमार सिंघी का यहां जैन समाज के लोगों द्वारा ‘स्वर्णिम सम्मान’ किया गया। धीरेंद्रकुमार का मैसूरी फेंटा, शाॅल एवं मेमेंटो भेंट कर सम्मान किया गया। इस अवसर पर स्वामित्व ग्रुप बेंगलूरु-सोलापुर के बाबूभाई मेहता ने धीर के पचास वर्षों की सफलता में सिंघी के संघर्ष व मिलनसारिता पर प्रकाश डाला। उन्होंने आडंबरमुक्त समाज की परिकल्पना पर भी अपने विचार व्यक्त किए। जैन जागरण आंदोलन, जोधपुर के सोहन मेहता ने कहा कि सादा जीवन उच्च विचारों के आधार पर हमें अपनी वर्तमान जीवनशैली अपनाने की जरुरत है। समाजसेवी कैलाश संकलेचा ने संचालन करते हुए अपनी बात कही। कार्यक्रम में राजस्थान संघ कर्नाटका के फाउण्डर चेयरमैन एवं आईवीएफ बेंगलूरु चैप्टर के प्रेसिडेंट रमेश मेहता, भाजपा नेता इंद्रचंद नाहर, बाबूलाल भंसाली, गिरधारीलाल मेहता व भरत पालरेचा आदि मौजूद रहे। धीरेंद्र कुमार ने आगंतुक सभी समाजजनों का स्वागत एवं आभार जताते हुए स्नेहिल शुभकामनाओं के प्रति आभार व्यक्त किया तथा भविष्य में भी इसी प्रकार सहयोग की अपेक्षा की। धीर के संपादक प्रशांत धीर ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।