ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
अचानक चर्मरोग से पीड़ित हुए 50 विमंदित बच्चों के इलाज व दवा की व्यवस्था की जैन जागृति महिला मंच ने
April 8, 2020 • Just Rajasthan Team • राष्ट्रीय

उपचार हेतु आपातकाल में एम्बुलेंस में आहोर से जोधपुर लाये गए

 बेंगलुरु/जोधपुर। राजस्थान के जालोर जिले के जागृति जन सेवा संस्थान द्वारा संचालित आहोर में मानसिक विमंदित पुनर्वास गृह के बड़ी संख्या में बच्चों को अचानक चर्म रोग हो गया, जिन्हें आहोर के एसडीएम से स्वीकृति लेकर जोधपुर जांच व परामर्श हेतु एंबुलेंस के माध्यम से लाया गया। सभी के इलाज व दवा हेतु जैन महिला जागृति मंच राजस्थान व कर्नाटक की अध्यक्षद्वय श्रीमती पुष्पा महेंद्र छाजेड़ और शारदा जवाहर चौधरी ने व्यक्तिगत स्तर पर पहल करते हुए इन सभी बच्चों की मदद की। श्रीमती शारदा ने बताया कि वैश्विक स्तर पर महामारी कोरोना व देशव्यापी लोक डाउन के चलते निश्चित रुप से सख्ती है, ऐसे में सरकारी दिशा निर्देशों की पालना करते हुए मोबाईल के माध्यम से प्रशासनिक अधिकारियों व चिकित्सकों से इन बच्चों की आपात काल में चर्म रोग से पीड़ित होने इलाज को सुचारु करवाया गया। जोधपुर में निवासरत मंच की राजस्थान की प्रदेशाध्यक्ष श्रीमती पुष्पा महेंद्र छाजेड़ ने स्वयं उपस्थित होकर इन व्यवस्थाओं में पूर्ण रुप से सहयोग किया। उन्होंने सभी चर्म रोगी पीड़ितों के लिए जोधपुर की हॉस्पिटल में जांच दवाओं की व्यवस्थाएं तत्काल प्रबंध करके करवाई गई। उन्होंने बताया कि विमंदित पुनर्वास गृह के 75 में से करीब 50 बच्चों को जो कि विभिन्न उम्र वर्ग के हैं, अचानक दो दिन पहले यह चर्म रोग हो गया। शारदा चौधरी ने बताया कि सभी के इलाज व दवा आदि का संपूर्ण खर्च मंच की पदाधिकारियों ने उठाया है। साथ ही भगवान से प्रार्थना की है ये बच्चे शीघ्र स्वस्थ होकर अपने पुनर्वास गृह पहुंच जाएं।