ALL राष्ट्रीय धार्मिक सामाजिक खेल
आचार्य लोकेशजी लंदन पार्लियामेंट में ‘महात्मा गांधी नोबेल अवार्ड ’ से होंगे समान्नित
January 24, 2020 • SANJAY JOSHIY • राष्ट्रीय

आचार्य लोकेशजी ने अपने कार्यों से भारत देश का गौरव बढ़ाया : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

 

नई दिल्ली। राजस्थान के बाड़मेर ज़िले के जाये जन्में अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक आचार्य डॉ लोकेशजी को विश्व में अहिंसा, शांति, सद्भावना की स्थापना तथा नैतिक व मानवीय मूल्यों के उत्थान के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए महात्मा गांधी नोबेल अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। यह अवार्ड उन्हे 26 जनवरी को ब्रिटन की पार्लियामेंट लंदन में दिया जाएगा। इस अवसर पर भारत के राजदूत दीपक वोरा, लंदन पार्लियामेंट के सदस्य गरेथ थॉमस, बॉब ब्लैकमैन, लंदन के मेयर राजराजेश्वर गुरूजी व अनेक प्रख्यात उद्योगपति भाग लेंगे। उल्लेखनीय है कि सर्वधर्म समन्वय के प्रतीक आचार्य डॉ लोकेशजी को इससे पूर्व भी भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सद्भाव पुरस्कार, संयुक्त राष्ट्रसंघ में एम्बेसडर ऑफ़ पीस, कैलिफ़ोर्निया की असेम्बली में “की टू सिटी” अवार्ड तथा गुलजारीलाल नन्दा राष्ट्रीय नैतिक पुरूस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। आचार्य डॉ लोकेशजी को लंदन रवाना होने से पूर्व नई दिल्ली के इण्डिया इंटर नेशनल सेंटर में हिमालय के संरक्षण पर आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी में भावपूर्ण विदाई दी गयी जिसमें केन्द्रीय मंत्री कैलाश चौधरी, हिमाचल के कृषि मंत्री डॉ मार्कण्ड, बौद्ध भिक्खु संघासेना, लद्दाक्ख के सांसद नामगयाल पद्मश्री डॉ नागेंद्र व नेपाल के प्रख्यात उद्योगपति डॉ विनोद चौधरी ने खड़े होकर भावपूर्ण स्वागत किया। सभी ने एक स्वर में कहा कि आचार्यश्री लोकेशजी ने अपने कार्यों से भारत देश का गौरव बढ़ाया है। आचार्य लोकेशजी ने कहा कि एक संत के लिए पुरुस्कार व तिरस्कार ज्यादा महत्व नहीं होता हैं किन्तु इससे कार्य करने की और अधिक ज़िम्मेदारी बढ़ जाती है। उन्होंने विश्व के मौजूदा हालात पर चर्चा करते हुए कहा कि नैतिक, चारित्रिक व मानवीय मूल्यों के क्षेत्र में कार्य करने वालों को और अधिक सक्रिय होने की जरूरत हैं। आचार्य लोकेशजी लंदन पार्लियामेंट में महात्मा गांधी पर व्याख्यान भी देंगे